विकास दुबे के गांव पहुँची SIT टीम, गोलियों के निशान देख रह गई दंग

कानपुर। बिकरू गांव पहुंची एसआईटी टीम दीवारों, दरवाजों पर गोलियों के निशान देख दंग रह गई। जांच टीम मौके की स्थिति देख भौंचक रह गई। साथ गए अफसरों ने घटना का विस्तृत ब्योरा दिया। रविवार को तीन सदस्यीय जांच दल बिकरू पहुंचा। विकास के खंडहर घर का नजारा देखा। अधिकारियों ने बताया कि किलेनुमा इसे घर में विकास और उसका परिवार रहता था। यहां उसकी गाड़ियां पार्क होती थीं। घर के चारों ओर करीब 40 सीसीटीवी कैमरे लगा रखे थे। टीम को बताया गया कि विकास ने पहले ही पुलिस से मुठभेड़ की तैयारी कर ली थी। हथियारबंद लोगों को घर में जमा किया। पुराने घर की छतों पर 30-35 लोग गोला-बारूद के साथ जमा थे। इसी घर की छत से पुलिस टीम पर गोलियां बरसाई गईं।

टीम ने विकास के घर के सामने शौचालय के लोहे के दरवाजे पर लगी गोलियों के निशान देखे। निशान वैसे ही बने हुए थे। पुलिस मुठभेड़ में मारे गए विकास के मामा प्रेम प्रकाश के घर भी टीम पहुंची। यहीं सीओ की बेरहमी से हत्या कर दी गई थी। विकास के आतंक का नजारा देख टीम स्तब्ध रह गई। टीम को बताया गया कि गोलियां मुठभेड़ में मारे गए प्रभात के घर से भी चलाई गई।

0/Post a Comment/Comments

Please do not enter any Spam Link in the Comments box.

Previous Post Next Post
close