ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए नही देना होगा कोई टेस्ट, सरकार जल्द ला रही है एक नया कानून, ऐसे बनेगा ड्राइविंग लाइसेंस

ड्राइविंग लाइसेंस बनवाना काफी कठिन काम माना जाता हैं। पहले दफ्तरों के चक्कर लगाना पड़ता, फिर दलालों को पकड़ना पड़ता था। लेकिन जब से सरकार ने इस प्रक्रिया को ऑनलाइन किया तो लोगों की मुसीबत थोड़ी कम हुई। अब सरकार इसमें एक और बड़ा बदलाव करने जा रही है। वो है ड्राइविंग लाइसेंस पाने के लिए टेस्ट देना, केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय प्रावधान कर रहा है कि ड्राइविंग ट्रेनिंग सेंटर से ट्रेनिंग लेने के बाद किसी भी व्यक्ति को ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन करने के दौरान ड्राइविंग टेस्ट न देना पड़े। मतलब अगर आप किसी ड्राइविंग ट्रेनिंग सेंटर से गाड़ी चलाना सीख लेते है तो लाइसेंस के लिए आपको कोई टेस्ट देने की जरूरत नहीं पड़ेगी। केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने इस योजना पर काम करना शुरू कर दिया है। मंत्रालय ने इसके लिए एक ड्राफ्ट नोटिफिकेश भी जारी किया है। केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय नोटिफिकेशन जारी कर लोगों से सलाह मांगी है।

ड्राइवर ट्रेनिंग सेंटरों को मान्यता - इस योजना के तहत मंत्रालय टेस्ट के लिए ड्राइवर ट्रेनिंग सेंटरों को मान्यता देगा कि वो इसे लागू कर सके। इसके लिए मंत्रालय की ओर से अधिसूचना जारी कर दी गई है। हालांकि ड्राइविंग ट्रेनिंग सेटरों को सरकार की ओर से बनाए गए नियमों का पालन करना होगा। लोगों के सुझाव के लिए केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने इस ड्राफ्ट नोटिफिकेशन को अपनी वेबसाइट पर अपलोड कर दिया है। इसमें आप भी अपना सुझाव दे सकते है।

0/Post a Comment/Comments

Please do not enter any Spam Link in the Comments box.

Previous Post Next Post